Home Punjab रवनीत बिट्टू पर एफआईआर दर्ज करवाने के लिए भाजपा जिला जालंधर देहाती ने एसएसपी...

रवनीत बिट्टू पर एफआईआर दर्ज करवाने के लिए भाजपा जिला जालंधर देहाती ने एसएसपी को दिया ज्ञापन, रवनीत बिट्टू पहले अपने दादा के कातिलों को देखें, उधर मुंह करने की हिम्मत नही उसकी : अमरजीत  सिंह अमरी 

बयूरो : भाजपा जिला जालंधर देहाती (उत्तरी) के जिला प्रधान अमरजीत सिंह अमरी और भाजपा जिला जालंधर देहाती (दक्षिणी) के जिला प्रधान सुदर्शन सोबती के नेतृत्व में जिला जालंधर रूरल एसएसपी को रवनीत बिट्टू पर एफआईआर दर्ज करवाने के लिए ज्ञापन दिया। जिसमे गत दिवस चोलांग टोल प्लाजा पर भाजपा प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा पर हुए कातिलाना हमले की जिम्मेवारी कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्टू द्वारा लिए जाने के बाद उस पर 153, 307, 505, 506 IPC की धाराओं के तहत मामला दर्ज करने के लिए कहा गया है। इस सम्बन्धी जब भाजपा जिला जालंधर देहाती (उत्तरी ) अमरजीत सिंह अमरी और भाजपा जिला जालंधर देहाती (दक्षिणी) प्रधान सुदर्शन सोबती से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा की रवनीत बिट्टू गंदी राजनीती पर उतर आया है। पहले तो कांग्रेस पार्टी किसान आंदोलन के अंदर घटिया राजनीती करने से बाज नहीं आई अब इस आंदोलन को फेल करने के लिए अपने गुंडों से चोलांग टोल प्लाजा पर भाजपा प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा पर कातिलाना हमला करवाया जिसमें वे बाल बाल बचे और अब उस हमले की जिम्मेवारी कांग्रेस का सांसद रवनीत बिट्टू ले रहा है और आगे कह रहा है की आगे भाजपा के पदाधिकारियों या कार्यकर्ताओं पर जितने भी हमले होंगे वह भी यही करवाएगा। ये तो सरासर लोकतंत्र का अपमान है ये भाजपा की आवाज को कुचलना चाहते हैं। रवनीत बिट्टू तू एक बात याद रख भाजपा किसानों के हितों के लिए काम करने वाली पार्टी है। कांग्रेस, अकालीदल और आप किसान बिलों पर जितना मर्जी किसानों को गुमराह कर ले, एक दिन दूध का दूध और पानी का पानी होकर रहेगा की ये सभी किसान बिल किसान विरोधी नहीं किसान हितैषी हैं। मैं रवनीत बिट्टू से पूछना चाहता हूँ की तू बीजेपी को ललकार रहा है आज तक तेरे दादे के कातिलों को ललकारने की तेरी हिम्मत नहीं हुई तूने आज तक उनके घर की तरफ मुंह तक नहीं किया। आज अपनी डूबती हुई राजनीती को बचाने के लिए और अपने आपको किसानो का सच्चा हितैषी साबित करने के लिए तूने अब विरोधी पार्टियों के नुमाईदो की सुपारी भी देनी शुरू कर दी है। हमें हैरानी तो इस बात की है की इतनी बड़ी बात करने के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुंह से रवनीत बिट्टू के खिलाफ एक शब्द नहीं निकला इसका सीधा मतलब कैप्टन की रवनीत बिट्टू को मौन अविकृति है मगर हम ऐसा हरगिज नहीं होने देंगे। हम पुलिस से ये मांग करते हैं की इसी समय सांसद रवनीत बिट्टू पर कठोर धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज हो ताकि बाकि लोग भी इस प्रकार का ब्यान देने से पहले सो बार सोचें इस प्रकार के बयानों से पंजाब का माहौल एक बार फिर खराब करने की चेष्टा है क्या कांग्रेस फिर से पंजाब में 84 जैसा दौर लाना चाहती है क्या कांग्रेसी लीडर पंजाब में फिरसे हिन्दू सिखों के कत्लेआम का खेल खेलना चाहते हैं। भाजपा हर कुरबानी देने को तैयार है लेकिन किसी भी कीमत पर पंजाब का माहौल कांग्रेसी लीडरों को खराब करने नहीं देगी। इस अवसर  पर पंजाब प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रंजीव पांजा, जिला प्रधान लीगल सेल उतरी एडवोकेट राजेश शर्मा, जिला जनरल उत्तरी सेक्रेटरी गिरधारी लाल बोलिना, जिला जनरल उत्तरी सेक्रेटरी दक्षिणी लाल सिंह, जिला सेक्रेटरी एडवोकेट कृष्ण कुमार, मानी राम व अन्य मौजूद थे।